क्या होगा अगर पृथ्वी पर 5 सेकेंड तक ऑक्सीजन न हो? What will happen if there will be no oxygen on Earth for 5 seconds?

Must read




 

क्या होगा अगर पृथ्वी पर 5 सेकेंड तक ऑक्सीजन न हो?

नमस्कार दोस्तों, Machoo Fact वेबसाइट पर आपका हार्दिक स्वागत है। और आज हम आपके लिये एक और शानदार Article लेकर हाज़िर हैं। दोस्तों क्या आपने कभी सोचा है कि यदि हमारी पृथ्वी से ऑक्सीजन को हटा दिया जाए तो इसका हमारे जीवन और आस पास के वातावरण पर क्या प्रभाव पड़ेगा? हम इंसान कितनी देर तक जिंदा रह पाएंगे? पृथ्वी का क्या होगा?

ऐसे ही कई सवाल अपके दिमाग में घूम रहे होंगे। यहां पर ऑक्सीजन को हमेशा के लिए हटाने की बात नही हो रही है। हम बात कर रहे हैं कि ऑक्सीजन को बस 5 सेकंड के लिए पृथ्वी से हटा दिया जाए।

अब शायद आप यह सोच रहे होंगे कि ऑक्सीजन को मात्र 5 सेकंड के लिए हटाने पर कुछ ज्यादा असर नही पड़ेगा क्योंकि हम जानते हैं कि हर व्यक्ति अपनी सांस को कम से कम 30 सेकंड तक रोक ही सकता है। ऐसे में यदि 5 सेकंड ऑक्सीजन नही भी होगी तो पता नही चलेगा। पर दोस्तों यदि ऐसा सोच रहे हैं तो आप गलत है। क्योंकि ऑक्सीजन न सिर्फ हमारे सांस के लिए जरूरी है, बल्कि इस पृथ्वी पर मौजूद हर चीज के लिए भी ऑक्सीजन उतनी ही जरूरी है।
यदि ऑक्सीजन 5 सेकंड के लिए भी हटा दिया जाए तो सबसे पहले ओजोन की परत प्रभावित होगी जो ऑक्सीजन के अणुओं से मिलकर बनी होती है। ऐसा होने पर सूर्य से निकलने वाली UV किरण सीधे हमारे ऊपर पड़ने लगेगी, जिससे हमें बहुत नुकसान होगा। इसके साथ ही हमारी पृथ्वी की ऊपरी सतह भी तहस नहस होने लगेगी, क्योंकि ऊपरी सतह का 45% भाग ऑक्सीजन से मिलकर बना हुआ है।

ऑक्सीजन की उपस्थिति के कारण ही सीमेंट आदि में जोड़ने की क्षमता उत्पन्न होती है। ऐसे में यदि अचानक कुछ वक्त के लिए ऑक्सीजन पृथ्वी से गायब हो जाये तो इंसानों के द्वारा किये गए लगभग सभी निर्माण कार्य नष्ट हो जाएंगे, और एक तरह से प्रलय जैसा मंजर उत्पन्न हो जाएगा। ऑक्सीजन के कारण ही आग जलती है। यदि ऑक्सीजन नही रहेगी तो आग नही जल पाएगी, जिससे कई सारे काम रुक जाएंगे। इसके साथ हर तरह के गाड़ियां को जीवाश्म ईंधन से चलती हैं वो बंद हो जाएगी। क्योंकि इंजन काम करना बंद कर देगा।
इसके अलावा आकाश पूरी तरह काला दिखाई देगा। पानी ऑक्सीजन और हाईड्रोजन से मिलकर बनता है। यदि ऑक्सीजन ही नही रहेगी तो हाईड्रोजन की मात्रा बढ़ने लगेगी, और समुद्रीय जल, आकाश में उड़ जाएगा। हरे भरे पौधों से इलाके कुछ ही पल में रेगिस्तान में तब्दील हो जाएंगे।

इसके साथ ही हर जीवित कोशिका में पानी तो अवश्य ही पाया जाता है। ऐसे में यदि ऑक्सीजन गायब हो गई तो शरीर के अंदर मात्र हाईड्रोजन ही बचेगी जो वक़्त के साथ बढ़ती जाएगी, जिससे कोशिकाओं की फटने की संभावना बढ़ जाएगी।

हमारे कान का अंदरूनी भाग तुरंत ही फट जाएगा। इसका कारण यह है कि ऑक्सीजन के कारण हमारे अंदर एक निश्चित मात्रा में दवाब बना रहता है। जब ऑक्सीजन गायब होगी तो यह दवाब अचानक कम हो जाएगा, जिससे कान का अंदरूनी हिस्सा फट जाएगा।
इसके साथ ही दोस्तों एक बहुत बड़ा बदलाव उन धातुओं पर देखने को मिलेगा जो अभी कच्चे हैं। ऑक्सीजन के गायब होते ही ऐसे धातुएं आपस मे जुड़ जाएगी, जैसे वेल्डिंग करने के बाद जुड़ जाती हैं। क्योंकि तब उन पर किसी भी तरह का ऑक्सीकरण नही हो रहा होगा। जो हवाई जहाज कम ऊँचाई पर उड़ रहे होंगे वो अचानक जमीन पर आकर गिर जायेगे क्योंकि उन्हें अधिक ऊंचाई नही मिलेगी, साथ ही इंजन भी बंद हो जाएगा। पर जो प्लेन अधिक ऊंचाई पर उड़ रहे होंगे, उनके पास कुछ ज्यादा वक्त होगा संभलने के लिए। इसलिए वो हवा में कुछ नीचे तो जरूर गिरेंगे पर 5 सेकण्ड बाद फिर ऑक्सीजन मिलने लगेगी, तो प्लेन फिर से उड़ने लगेगा।

तो दोस्तों आज हमने आपको बताया कि अगर पृथ्वी से 5 सेकेंड को भी ऑक्सीजन हटा दी जाए तो इसका प्रभाव क्या हो सकता है। आप इसके बारे में क्या सोचते हैं? हमें कमेंट करके जरूर बताइए और हमें फॉलो करना ना भूलें।



Top Trending

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Technology