दुनिया के सबसे उन्नत हथियार Most Advanced Technological Weapons

Must read



दुनिया के सबसे उन्नत हथियार

दुनिया के सबसे उन्नत हथियार – दोस्तों आज सभी देशों में हथियारों की होड़ लगी हुई है। हर देश एक से एक नये और आधुनिक हथियारों का निर्माण करने में लगा हुआ है जिससे कि वो बाकी के देशों से ज्यादा ताकतवर बन सके। तो दोस्तों आज हम आपको कुछ ऐसे ही आधुनिक हथियारों के बारे में बताने वाले हैं। तो चलिये शुरु करते हैं:-

ऐडैवटिव केमोफ़्लैश


ब्रिटिश की रक्षा कंपनी BAE System ने अपने देश की रक्षा चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए ऐडैवटिव केमोफ़्लैश टेक्नोलॉजी का उपयोग करते हुए कुछ ऐसे हथियार बनाए हैं, जिनको अंधेरे में देख पाना बहुत ही मुश्किल हैं। ये हेक्सागॉन आकार के कई अलग अलग हिस्सों को मिलाकर इस तरह से बनाए जाते हैं कि यदि हीट सेंसिंग डिवाइस की मदद से भी पकड़ने की कोशिश की जाए तो भी इन्हें पकड़ना मुश्किल है। ये हीट सेंसिंग डिवाइस को बड़ी ही आसानी से धोखा देने में काबिल है। इनका बाहरी आवरण एक बड़े डिस्प्ले के समान होता है, जहां आर्मी अपनी सुविधा के अनुसार हीट सेंसिंग डिवाइस को कुछ भी आकार दिखा सकती है।

R-36 ICBM


दोस्तों जब लंबी दूरी पर कोई मार करने के लिए देख रहा तो ऐसे में ICB मिसाइल का उपयोग किया जाता है। लेकिन पुरानी तकनीकी में इस मिसाइल की टारगेट को भेद पाने की क्षमता बहुत कम होती थी। लेकिन आज की रूस में बनी R-36 ICBM के बारे में कहा जाता है कि 5500 किमी दूर स्थित किसी छोटे से टारगेट को भेदने में सक्षम है।

जैवलिन मिसाइल


यह एक पोर्टेबल मिसाइल सिस्टम है, जिसे आर्मी अपने साथ कही भी बड़े ही आसानी से ले जा सकती है, लेकिन यह एक सबसे मंहगी मिसाइल सिस्टम भी है, जहां एक मिसाइल की कीमत 8000 USD पड़ता है। इस मिसाइल की सबसे खास बात यह है कि एक बार यदि यह अपने टारगेट को लॉक करले उसके बाद भले ही यह टारगेट इधर उधर धूमता रहे, वह अपने निशाने से नही चुकेगी।

B-2 बॉम्बर


यह बमवर्षक उस वक़्त का है जब अमेरिका और सोवियत यूनियन के बीच का शीत युद्ध अपने आखिरी मुकाम था। इसका मुख्य उद्देश्य यह था कि यह सोवियत यूनियन के उन महत्वपूर्ण ठिकानों पर जाएं और वहां पर परमाणु बमो को छोड़ सके। इसकी खास बात थी कि यह स्टेल्थ तकनीकी से भी लैश है। इसकी मारक क्षमता 18000 kg है। यद्यपि यह सबसे मंहगा बॉम्बर है।

Anti Missile Flare Counter Measures


दोस्तों यदि आप नही जानते है कि मिसाइल अपने लक्ष्य को कैसे भेदती है तो बता दें कि अधिकतर मिसाइल फाइटर प्लेन्स से निकलने वाली हीट को पहचान कर अपने लक्ष्य को निर्धारित करती है। पर Anti Missile Flare Counter Measures की खास बात यह है कि यह मिसाइल को चकमा देने में बहुत माहिर है। यह अपने विंग्स से लगातार हीट छोड़ता रहता है, जिस वजह से इस प्लेन के दूर का एरिया बहुत गर्म रहता है, और जब मिसाइल इस प्लेन की तरफ आती है तो हीट की गलत पहचान के कारण यह अपनी दिशा से भटक जाती है।

F-22 रैप्टर


F-22 रैप्टर 5th जनरेशन का एक सिंगल सीट और बारह इंजन वाला एक बेहद ही उन्नत कोटि का फाइटर जेट है। इस फाइटर जेट को US आर्मी की जरूरतों के हिसाब से बनाया गया था। इसकी खास बात यह है कि यह मौजूदा समय का सबसे अच्छा फाइटर प्लेन माना जाता है। इसके इंजन इस प्लेन को अतिरिक्त थ्रस्ट देते हैं, जिससे यह हवा में अधिक तेजी से उड़ान भर सकता है। इसके साथ ही इसकी डिज़ाइन भी बहुत अच्छी है।

लेसर वेपन्स


लेसर तकनीकी भले ही आज अपने शुरुआती चरण में हो, लेकिन दुनिया भर के तमाम देश आज लेसर तकनीकी से चलने वाले हथियार बनाने की भरपूर कोशिश कर रहे हैं। यद्यपि अभी तक एक पूर्ण रूप से सक्षम लेसर वेपन बनाने में सफलता कुछ गिने चुने देशों को ही मिली है। नेवी में लेसर हथियार के इस्तेमाल होने की संभावना सबसे पहले है। लेसर हथियार की सबसे खास बात यह है कि ये बहुत दूर स्थित किसी भी अपने लक्ष्य को आसानी से भेद सकते हैं, साथ कि इनकी एक्यूरेसी भी बहुत अधिक होती है।

तो दोस्तों ये थे दुनिया के कुछ सबसे आधुनिक और उन्नत हथियार आपको इनमे से सबसे खतरनाक हथियार कौन-सा लगा… हमें कमेंट करके जरूर बताएँ। और हाँ दोस्तों आर्टिकल अच्छा लगा हो तो शेयर जरूर करें।



Top Trending

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Technology