भारत में आ चूका है Vivo X50 Pro देखें इसके Specification, Price

Must read




Vivo X50 Pro भारत में उपलब्ध है और इसे कंपनी ने कई बड़े दावों के साथ लॉन्च किया था. कंपनी के मुताबिक़ इसमें जिंबल लेवल का कैमरा दिया गया है. कैमरा लेंस रोटेट करता है और इससे वीडियो स्टेबल रिकॉर्ड होते हैं.

आम तौर पर कॉन्टेंट क्रिएटर्स इन दिनों स्मार्टफ़ोन से वीडियो रिकॉर्ड करने के लिए जिंबल का इस्तेमाल करते हैं. एक ठीक ठाक जिंबल की क़ीमत 10 हज़ार रुपये तो होती ही है. कई महँगे जिंबल भी मार्केट में है.

अब सवाल ये है कि क्या Vivo X50 Pro जिंदल को रिप्लेस कर पाएगा? जवाब है – नहीं.

जिस तरह से अब तक स्मार्टफ़ोन का कैमरा डीएसएलआर को रिप्लेस नहीं कर पाया है इसी तरह ये जिंबल को रिप्लेस नहीं कर पाएगा.

लेकिन रिव्यू के दौरान हमने ये ज़रूर पाया है कि इसे जिंबल के विकल्प के तौर पर अगर आप यूज करें तो आपको ये पसंद आएगा.

ये ठीक इसी तरह है जैसे स्मार्टफ़ोन से भी प्रोफेशनल लेवल की फोटॉग्रफी कर सकते हैं, वैसे ही इससे आप जिंबल लेवल के स्टेपल वीडियो निश्चिंत हो कर रिकॉर्ड कर सकते हैं.

Vivo X50 Pro डिज़ाइन और बिल्ड क्वॉलिटी

Vivo X50 Pro के डिजाइन और बिल्ड क्वॉलिटी की बात करें तो ये स्मार्टफोन शानदार है. ये बेहद प्रीमियम दिखता है, स्लीक है और सबसे अच्छी बात ये है कि ये फ़ोन कॉम्पैक्ट है. बैक में गलास का यूज है फ़्रेम एल्यूमिनियम का है.

इसे होल्ड करने में ग्रिप अच्छी रहती है और साथ ही इसमें फ़िंगरप्रिंट मैग्नेट नहीं यानी फ़ोन गंदा नहीं दिखेगा.  फोन का फ्रेम देखने में अच्छा लगता है और इसे कंपनी ने शार्प बनाया है. एंटेना लाइन्स हाइड किए गए हैं जो अच्छी बात है.

इस फ़ोन का बेस फ़्लैट है अगर आप चाहें तो इसे फ़्लैट सर्फेस पर सीधा खड़ा कर सकते हैं और वीडियो कॉलिंग भी कर सकते हैं. हाालंकि फूंक मारने से गिर भी सकता है.

रियर टॉप कॉर्नर में कैमरा मॉड्यूल है जहां चार लेंस लगे हैं. मॉड्यूल ऊभरा है, लेकिन इसके बगल में दिया गया एलईडी फ्लैश अंदर है. नीचे की तरफ वीवो की ब्रांडिंग है और ये फोन और फ़्रंट दोनों तरफ़ से ही कर्व्ड डिज़ाइन वाला है.

फोन के बॉटम में स्पीकर ग्रिल और सिम कार्ड ट्रे दिया गया है. डिजाइन और बिल्ड क्वॉलिटी के डिपार्टमेंट में ये स्मार्टफोन बेहद प्रीमियम है और कॉम्पैक्ट है और कम से कम आप यहां तो निराश नहीं ही होंगे.

Vivo X50 Pro डिस्प्ले

Vivo X50 Pro में 6.56 इंच की फ़ुल एचडी प्लस डिस्प्ले दी गई है. ये  AMOLED है. रिफ्रेश रेट 90Hz तक सपोर्ट करता है, क़ीमत के लिहाज़ से इसमें 120Hz रिफ़्रेश रेट दिया जा सकता था.

कंपनी ने इसमें सैमसंग का AMOLED पैनल यूज किया है और ये HDR 10+ सपोर्ट करती है. OTT प्लैटफॉर्म पर इन दिनों HDR बेस्ड कंटेंट मिलते हैं और यहां पर आफ इसे नोटिस भी कर पाएंगे.

कुछ दिन के यूज के आधार पर ये कहा जा सकता है कि इस फोन की डिस्प्ले शानदार है और फ्लैगशिप लेवल है.

डिस्प्ले काफी ब्राइट और कलरफुल है, चूंकि इसमें सैमसंग का ही AMOLED पैनल यूज किया गया है, इसलिए डार्क मोड में इसे यूज करना शानदार है.

वीडियो या फिर गेमिंग लगभग हर डिपार्टमेंट में यह बेहतर प्रदर्शन करता है. व्यूइंग एंगल भी ठीक है और डायरेक्ट सनलाइट में भी आपको इसे देखने में परेशानी नहीं होती है.

90Hz रिफ्रेश रेट दिया गया है, हालांकि कंपनी इसमें 120Hz रिफ्रेश रेट वाली डिस्प्ले दे सकती थी. क्योंकि इस कीमत पर आपको 120Hz रिफ्रेश रेट मिल जाएंगे.

Vivo X50 Pro कैमरा

कैमरा इस स्मार्टफोन का सबसे बड़ा हाइलाइट है. क्योंकि कंपनी ने इसके कैमरे को लेकर बड़े दावे किए हैं. कॉन्टेंट क्रिएटर्स को भी ध्यान में रखा गया है.

प्राइमरी कैमरा 48 मेगापिक्सल का है, दूसरा 8 मेगापिक्सल का अल्ट्रा वाइड लेंस है. 13 मेगापिक्सल का टेलीफ़ोटो प्रोर्ट्रेट लेंस और 8 मेगापिक्सल का चौथा लेंस है. सेल्फ़ी के लिए इसमें 32 मेगापिक्सल का फ़्रंट कैमरा दिया गया है.

प्राइमरी कैमरा में यूनिक जिंबल सिस्टम लगाया गया है आप लेंस को रोटेट होते हुए देख सकेंगे. ये इलेक्ट्रोमैग्नेटिक इंडक्शन के ज़रिए होता है. प्राइमरी लेंस SONY IMX598 है जिससे अच्छी फोटॉग्रफी होती है.

वीवो के दूसरे हाई एंड स्मार्टफ़ोन्स की तरह ही ओवर सैचुरेशन तो दिखेगा, लेकिन ये ठीक है और रिज़ल्ट अच्छा है. इसमें दो टेलीफ़ोटो लेंस हैं – 2x और 5x.

इन दिनों कंपनियां मैक्रो लेंस भी दे रही हैं, लेकिन इसमें मैक्रो लेंस की जगह भी कंपनी ने टेलीफ़ोटो लेंस ही दिया है.

उम्मीद से ज़्यादा लो लाइट फोटॉग्रफी अच्छी होती है और ख़ास कर नाइट मोड़ कमाल का है. आउटडोर फोटॉग्रफी अच्छी होती है और फ़ोटोज़ में पर्याप्त डीटेल्स मिलते हैं. फ़ोटोज़ शार्प आती हैं और कम रौशनी में भी ज़्यादा ग्रेन्स देखने को नहीं मिलेगा.

फ़ोटोज़ में नॉयज में नहीं नोटिस कर पाएंगे. अल्ट्रा वाइड से क्लिक की गई तस्वीरों में काफ़ी वाइड कवरेज तो है, लेकिन वाइड एंगल में क्लिक की गई तस्वीरों में आप ज़्यादा डीटेल्स नहीं पाएंगे.

वीडियो रिकॉर्डिंग की बात करें तो आप इससे आराम से 4K वीडियोज रिकॉर्ड कर पाएंगे और वो भी 60fps में. जैसा की पहले भी बताया वीडियोज दूसरे साधारण स्मार्टफोन्स के मुक़ाबले स्टेबल होंगे. सिर्फ़ वीडियो ही नहीं नॉर्मल फ़ोटोज़ में भी जिंबल कैमरा सेटअप होने का फ़ायदा मिलता है.

वीडियो स्टेब्लाइजेशन की बात करें तो वाकाई वीडियोज स्टेबल रिकॉर्ड होते हैं. चाहे आप कार पर हों, बाइक पर हों या दौड़ रहे हैं, वीडियो रिकॉर्डिंग में कोई परेशानी नहीं है.

Vivo X50 Pro परफ़ॉर्मेंस

Vivo X50 Pro में Qualcomm Snapdragon 765G प्रोसेसर दिया गया है. 8GB रैम है और 256GB की इंटर्नल स्टोरेज है. फ्लैगशिप प्रोसेसर नहीं है, लेकिन परफॉरमेंस कोई खास परेशानी नहीं नोटिस किया है.

सॉफ़्टवेयर फ़्रंट पर वीवो ने कुछ समय से इंप्रूवमेंट तो किया है, लेकिन फिर भी कंपनी को और इंप्रूवमेंट करना होगा.

फ़ोन में किसी तरह का कई लैग नहीं है और न ही नॉर्मल यूज में हैंग होने की समस्या है. मल्टी टास्किंग, एक ऐप से दूसरे ऐप में स्विच करने से लेकर ब्राउज़िंग एक्सपीरिएंस भी स्मूद है.

हार्डकोर गेमिंग में ये फ़ोन निराश करेगा, क्योंकि लगातार कुछ समय तक गेम खेलने पर ये फ़ोन गर्म होता है. हालांकि डिस्प्ले और कर्व्ड होने की वजह से गेमिंग और वीडियो देखने का अनुभव अच्छा रहा.

ओवरऑल परफ़ॉर्मेंस फ़्रंट पर ये फोन ऐवरेज से बेहतर है और मिक्स्ड यूज में आपको कम से कम से एक साल तक तो कोई दिक़्क़त नहीं आएगी, ऐसा मेरा अनुमान है.

Vivo X50 Pro बैटरी

इस स्मार्टफ़ोन में 4,315mAh की बैटरी दी गई है और इसके साथ 33W फ़ास्ट चार्ज सपोर्ट दिया गया है. हालांकि फ़ोन में वायरलेस चार्जिंग का सपोर्ट दिया जाना चाहिए था जो नहीं है.

मिक्स्ड यूज में ये स्मार्टफ़ोन दूसरे फ़्लैगशिप के तरह ही पूरी दिन का बैटरी बैकअप देता है. हेवी यूजर हैं तो एक दिन से कम की ही बैकअप मिलेगी. हालांकि ये फ़ोन चार्ज काफ़ी तेज़ी से होता है.

Vivo X50 Pro की कीमत 50 हजार के करीब है. ये फोन अपने सेग्मेंट का बेस्ट को नहीं कहा जा सकता, लेकिन इसका कैमरा सेग्मेंट बेस्ट को टक्कर देता है. परफॉर्मेंस फोन चाहिए तो आप इस सेगमेंट में Snapdragon 865 Plus प्रोसेसर वाले फोन भी उपलब्ध हैं.

ये फोन हैंडी है और सिंगल हैंड यूज कर सकते हैं, इसके बावजूद इसकी डिस्प्ले बड़ी है. ये फोन बेहद प्रीमियम लगता है और अगर आप कंटेंट क्रिएटर हैं तो आपके लिए ये फोन जिंबल का भी काम कर सकता है. कैमरा, डिस्प्ले और ओवरऑल बिल्ड क्वॉलिटी और डिजाइन के लिहाज से ये फोन अच्छा है.



Top Trending

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Technology