Duniya Ke Rahashyamayi Viran Or Bhutiya Shahar

Must read



दुनिया के रहस्यमय वीरान शहर

Duniya Ke Rahashyamayi Viran Or Bhutiya Shahar : आज हम आपको दुनिया के कुछ ऐसे विरान शहरों के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां लोगों ने इन शहरों को छोड़ दिया है। जिसकी वजह से ये शहर वीरान हो चुके हैं। जिसके बाद ये शहर पूरी तरह से खाली हो चुके है। यहां पर कोई भी आता जाता नहीं है। माना जाता है कि ये शहर अब भूतिया शहर (Bhutiya Shahar) बन चुके हैं जिसकी वजह से यहाँ आना आसान नहीं रहा है चलिए आपको बताते हैं कौन से हैं वे वीरान शहर।

ये हैं दुनिया के रहस्यमय वीरान शहर जिन्हे भूतिया शहर भी कहा जाता है

ORDOS CITY

ऑर्डोस सिटी इनर मंगोलिया चीन के 12 प्रमुख विभागों में से एक है। ये शहर येलो नदी के ऑडोस पठार पर स्थित है, और बड़ी बड़ी सरकारी परियोजनाओं के लिए जाना जाता है। जिसे हाल ही में कई नए जिलों को शामिल भी किया गया है, लेकिन क्या आप जानते हैं, इस शहर को जो कि चीन में स्थित है। इसे भूतों के शहर (Bhutiya Shahar) के नाम से भी जाना जाता है। दुनिया भर के न्यूज़ चैनलों ने इस शहर को भूतिया घर के नाम से संबोधित किया है, क्योंकि इस शहर की आबादी बहुत कम है और यहां की सड़कों पर बहुत कम लोग आपको देखने को मिलेंगे। यहां आकर आपको ऐसा महसूस होगा, कि आप किसी खाली जगह पर आ गए हो।

ordos city 2

दोस्तों आपके माइंड में ये प्रश्न तो जरूर उठ रहा होगा कि यहां पर कोई क्यों नहीं रहता और यहां की आबादी इतनी कम क्यों है। आपको बता दें कि जब इस शहर का निर्माण किया गया था, तब यहां 10 लाख लोगों के रहने की व्यवस्था की गई थी। लेकिन ज्यादा प्रॉपर्टी टैक्स होने की वजह से यहां पर बस दो बिल्डिंग ही भरपाई है। और बाकी के अपार्टमेंट को ऐसे ही खाली छोड़ दिया गया, जिसकी वजह से ये शहर इतना खाली और वीरान सा लगता है।

FATEHPUR SIKRI

फतेहपुर सीकरी उत्तर भारत के पश्चिम में स्थित एक छोटा सा शहर है, जिसकी स्थापना सोलवीं शताब्दी में मुगल शासक अकबर के द्वारा की गई थी। इस शहर के केंद्र में लाल बलुआ पत्थर की इमारतें बनी हुई है। ये शहर यूनेस्को द्वारा विश्व धरोहर में से एक है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये शहर सबसे सुंदर और सबसे खाली शहरों में से एक है।

FATEHPUR SIKRI

इस शहर को 1585 में अकबर के द्वारा छोड़ दिया गया था। जब ये पंजाब में एक अभियान के लिए गया था। अकबर के तुरंत जाने के बाद ये शहर पूरी तरीके से खाली हो गया था, क्योंकि यहां पानी के पर्याप्त साधन नहीं थे और आए दिन लोगों को पानी की भारी समस्याओं से जूझना पड़ रहा था। इन सब चीजों के कारण लोगों ने इस शहर को छोड़ने का फेसला लिया। ये शहर काफी फेमस है, जिसकी वजह से लोग देश विदेश से यहां घूमने आते हैं।

HASHIMA ISLAND

हाशिमा आइसलैंड की इन तस्वीरों को देखकर ऐसा लगता है, जैसे मानो किसी भयंकर तूफान ने इसे तबाह कर दिया हो। जिसकी वजह से यहां रहने वाला एक भी व्यक्ति जिंदा नहीं बचा, लेकिन ऐसा नहीं है। हम आपको बताते हैं कि क्यों ये आइसलैंड इतना खाली और सुना है। सन 1887 में इस जगह का निर्माण कोयले के खनन के लिए किया गया था।

OLYMPUS DIGITAL CAMERA

यहां 5000 से भी ज्यादा कर्मचारी समुद्र से कोयला निकालने का काम करते थे। ये कर्मचारी यहां आइसलैंड में ही रहते  थे। लेकिन जल्द ही जापान में औद्योगिकीकरण के चलते कई सस्ते विकल्प मौजूद हो गए और कोयले की खद्दानो को बंद करना पड़ा। जिसकी वजह से इन कर्मचारियों को इस आइसलैंड से लौटना पड़ा। और यहां चारों तरफ विरानियत सी छा गई। यहां कुछ साहसी लोग ही आ आते हैं जो यहां हुई इन घटनाओं के बारे में चर्चा करते हैं।

HOUTOUWAN VILLAGE CHINA

आप सभी ने हॉलीवुड फिल्म द हॉबिट तो जरूर देखी होगी, आपमें से कई लोग तो इसके फैन भी जरूर होंगे। इस फिल्म को देखने के बाद आप सबके मन में नेचर के प्रति एक फ्रेंडली नेचर की भावना जरूर आई होगी। आपको जानकर हैरानी होगी कि इस शहर को प्रकृति ने अपनी गोद में ले लिया था। चीन में इस हाउ टू ऑन को बहुत प्यार से संजोया है। यहां के घरों की छतों और दीवारों सब जगह पर आपको हरियाली ही हरियाली नजर आएगी। यहां जाने के बाद आपको ऐसा महसूस होगा, कि आप किसी सपनों के शहर में आ गए हो।




TOPSHOT-CHINA-ENVIROMENT-TOURISM-NATURE

1980 तक इस गांव में 30000 मछुआरों का  घर हुआ करता था, लेकिन यहां इन मछुआरों को कई असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा था, जिसकी वजह से धीरे-धीरे करके यहां के लोग इस गांव को छोड़ कर चले गए। साल 2002 तक सभी गांव वालों ने इस गांव को पूरी तरीके से खाली कर दिया था। लेकिन कुछ समय बाद ही कुदरत का ऐसा करिश्मा हुआ कि उसने इस गांव को अपने आगोश में ले लिया। जिसकी वजह से यहां हर घर में नई-नई वनस्पतियां आपको देखने को मिल जाएंगी। जो इस गांव को और भी ज्यादा खूबसूरत बनाती है।

PYRAMIDEN

PYRAMIDEN

पिरामिड रशिया का ये गांव असल में अपने आसपास खद्दनो के चलते बसाया गया, जहां लोगों के रहने और उनकी सारी सुविधाओं को ध्यान में रखकर सब चीजों को बनाया गया। जैसे हॉस्पिटल, शॉपिंग मॉल, थिएटर ये सब। जैसे-जैसे इस गांव में आबादी बढ़ने लगी, वैसे ही लोगों के मन में भी मनगढ़ंत बातें आने लगी। जिससे इस जगह को एक श्रापित जगह बताया जाने लगा। इसी कारण से धीरे-धीरे लोग इस गांव को छोड़ कर चले गए। जिसकी वजह से यह गांव हमेशा के लिए वीरान हो गया। और यहां जाना भी इतना आसान नहीं रहा। वैसे भी कोई इंसान अपनी जान को जोखिम में डालकर यहां इस वीरान जगह में भला क्यों आएगा। जब से लेकर आज तक यह पिरामिड विरान ही पड़ा हुआ है, यहां कोई आता जाता नहीं है।

UFO HOUSES

ufo houses machoo fact

अमेरिकन सैनिकों के लिए 1978 में ताइवान में एक ऐसे रिसोर्ट को बनाया गया, जहां सेना के अधिकारी अपनी छुट्टियों को एंजॉय कर सके। लेकिन इस रिसोर्ट को बनाने वाले व्यक्ति इतना कर्जे में डूब गए थे कि उन अरबोपती के पास खाने तक के लिए पैसे नहीं बचे। और फिर कुछ समय बाद उन लोगों ने वहां जाने के बारे में सोचा तो उनके साथ हुई ऐसी विचित्र घटना ने उन लोगों को इतना डरा दिया, कि तब से वह रिसोर्ट बंद पड़ा है। अगर आप जानना चाहते हैं, कि उन लोगों के साथ क्या घटना हुई थी। तो आपको बता दें कि वह मंजर बहुत डरावना रहा था उन लोगों के लिए, जहां मौजूद सभी गाड़ियों में अचानक से हॉर्न बजने लगे, गाड़ियां हिलने लगी और लोगों की माने तो न जाने कैसी कैसी आवाजें आने लगी। फिर क्या था, इतना सब कुछ होने के बाद शायद ही कोई व्यक्ति यहां पर दोबारा आने की कोशिश करें।

PRIPYAT  UKRAINE

प्रीपयात को 4 फरवरी 1970 को यूक्रेन के बेलारूस बॉर्डर के सोवियत यूनियन के न्यूक्लियर शहर के रूप में बसाया गया। ये शहर विशेष रूप से चेरी नोबेल पावर पॉइंट में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए बसाया गया था।

PRIPYAT  UKRAINE machoo fact

जो दुर्भाग्यपूर्ण घटना के शिकार हो गए, हालांकि इस शहर को खाली कर लिया गया है। मगर आज भी खतरनाक रेडियोएक्टिव किरणों की वजह से यहां जाना बैन कर दिया गया है, जिसकी वजह से यहां कोई भी व्यक्ति अपना घर नहीं बसा सकता।

PARIS CATACOMBS, FRANCE

The Catacombs, Catacombes-de-Paris.

पेरिस केटेकॉम्स फ्रांस 1785 में कब्रिस्तान की कमी होने के कारण कई लाशों को एक साथ गड्ढे में  दफना दिया गया था। फ्रांस राजधानी पेरिस में बसा ये केटकॉम 200 मीटर लंबा है, जहां 6 मिलियन से भी ज्यादा कंकाल मौजूद है।इस कैट कॉम को लोग आज भी दूर दूर से देखने आते हैं। इनकी पिक्चर क्लिक करते हैं,  इनके बारे में डिस्कस भी करते हैं।

दोस्तों इस आर्टिकल में हमने आपको कुछ वीरान शहरों के बारे में जानकारी दी। आपको इन वीरान शहरों के बारे में जानकर कैसा लगा हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं। धन्यवाद।



Top Trending

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Technology